क्या डेल्टा वेरियंट की वजह से आएगी कोरोना की तीसरी लहर? एक बार जरूर पढ़े नहीं तो पड़ेगा पछताना

पिछले एक महीने में डेल्टा वेरिएंट में 75 फीसदी का इजाफा हुआ है। यह ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, चीन, भारत, इंडोनेशिया, इज़राइल, दक्षिण अफ्रीका और यूके जैसे देशों में तेजी से फैल गया है।

नई दिल्ली: पिछले एक हफ्ते में दुनियाभर में कोरोना वायरस के मामलों में इजाफा हुआ है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 12 से 18 जुलाई 2021 के बीच के आंकड़ों के आधार पर बढ़ते मामलों पर चिंता व्यक्त की है।

पिछले हफ्ते रोजाना 4 लाख मामले सामने आ रहे थे, जबकि इस हफ्ते रोजाना 4 लाख 90 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं। WHO ने माना है कि दुनिया के कई देशों में कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है. आइए जानते हैं कोरोना का कौन सा वेरिएंट सबसे खतरनाक है जिसकी वजह से आ सकती है तीसरी लहर…

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, दुनिया में चिंता के विभिन्न रूपों का तेजी से प्रसार, कोरोना प्रोटोकॉल में ढील और टीकाकरण की गति धीमी होना कोरोना के बढ़ते मामलों का कारण हो सकता है। गौरतलब है कि पिछले दो महीने से कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या में गिरावट आई थी, लेकिन पिछले दो हफ्तों में यह गिरावट रुक गई। मरने वालों की संख्या जस की तस बनी हुई है।

इन देशों में सबसे ज्यादा कोरोना मरीज

पिछले हफ्ते अमेरिका और यूरोप में कोरोना वायरस के मरीज सबसे तेजी से बढ़े हैं। सबसे अधिक मामले दर्ज करने वाले देशों में भारत चौथे स्थान पर है। हालांकि, भारत में पिछले हफ्ते की तुलना में नए कोरोना मरीजों की संख्या में कमी आई है।

नए 5 देशों में तेजी से बढ़ रहे मामले

  • 1- पिछले हफ्ते सबसे ज्यादा नए मामले इंडोनेशिया में दर्ज किए गए। वहां साढ़े तीन लाख से ज्यादा मामले दर्ज किए गए। यह संख्या पिछले सप्ताह की तुलना में 44 प्रतिशत अधिक है।
  • 2- यूनाइटेड किंगडम में पिछले हफ्ते करीब 3 लाख केस दर्ज किए गए। वहां भी मामले 41 फीसदी बढ़े।
  • 3- ब्राजील तीसरे नंबर पर रहा जहां तीन लाख से कम मामले दर्ज किए गए। वहां 14 फीसदी मामले बढ़े।
  • 4- भारत में पिछले हफ्ते 2 लाख 68 हजार मामले दर्ज किए गए हैं। हालांकि, भारत में पिछले हफ्ते के मुकाबले नए मामलों में 8 फीसदी की कमी आई है.
  • 5- अमेरिका में अब तक करीब 2.25 लाख (216 433) मामले दर्ज किए गए हैं, हालांकि पिछले हफ्ते के मुकाबले 68 फीसदी मामले बढ़े हैं.

कौन सा वेरिएंट कहां?

  • अल्फा वेरिएंट – 180 देशों में फैला, पिछले हफ्ते 6 नए देशों में फैला।
  • बीटा संस्करण – 130 देशों में फैला, पिछले सप्ताह 7 नए देशों में फैला।
  • गामा वेरिएंट – 78 देशों में फैला, पिछले हफ्ते तीन नए देशों में जगह बनाई।
  • डेल्टा वेरिएंट – यह वेरिएंट अब 124 देशों में फैल चुका है। पिछले एक हफ्ते में तेजी से संक्रमित होने वाले इस वेरिएंट ने 13 नए देशों में अपनी जगह बनाई है।

डेल्टा वेरिएंट से परेशान हैं दुनिया के ये देश

पिछले एक महीने में डेल्टा वेरिएंट में 75 फीसदी का इजाफा हुआ है। यह ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, चीन, भारत, इंडोनेशिया, इज़राइल, दक्षिण अफ्रीका और यूके जैसे देशों में तेजी से फैल गया है।

कोरोना के इस रूप से आएगी तीसरी लहर?

चीन में किए गए एक अध्ययन में पाया गया है कि डेल्टा वेरिएंट 4 दिनों के भीतर एक व्यक्ति को संक्रमित कर देता है। यानी 4 दिन के अंदर उसका पीसीआर टेस्ट पॉजिटिव आता है। डेल्टा वेरियंट से संक्रमित व्यक्ति का वायरल लोड कोरोना वायरस के सामान्य वेरियंट से 1200 गुना ज्यादा हो सकता है। वायरस का एक रूप जो चिंता का एक प्रकार नहीं है वह कम खतरनाक है। जबकि जोखिम चिंता के प्रकार से अधिक है।

Roshan Bilunghttp://roshanbilung.com
I, Roshan Bilung Digital Marketer, Freelancer & Web Developer. My Passion is sharing the latest information and article with the public.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

- Advertisment -
iTree Network Solutions