विजिलेंस रेड की खाली हुआ आरटीए दफ्तर, अफवाह से एजेंटों के साथ क्लर्क भी गायब

Roshan Bilung

जिला प्रशासकीय कांप्लेक्स स्थित रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी यानी आरटीए के दफ्तर में वीरवार को विजिलेंस रेड होने की अफवाह उड़ने से पूरा दफ्तर खाली हो गया। यहां काम करने वाले प्राइवेट एजेंटों के साथ क्लर्क भी अपनी सीटों पर नजर नहीं आए।  हालांकि इस दौरान आरटीए की सेक्रेटरी डॉ. नयन जस्सल अपने दफ्तर में ही मौजूद रहीं। छापामारी के डर के कारण निचले स्तर के ज्यादातर मुलाजिम अपनी सीटों पर नहीं बैठे।

इस वजह से यहां काम कराने आने वाले लोगों को क्लर्कों को ढूंढने के लिए मशक्कत करनी पड़ी। क्लर्क अपनी सीटों के बजाय आस-पास खड़े थे ताकि अगर विजिलेंस की रेड हो भी जाए तो वे वहीं से गायब हो सकें। दूसरी ओर, दोपहर तक विजिलेंस की तरफ से संबंधी कोई छापामारी आरटीओ दफ्तर में नहीं की गई। फिर भी, दफ्तर में अफरा-तफरी मची है।

विजिलेंस रेड की खाली हुआ आरटीए दफ्तर, अफवाह से एजेंटों के साथ क्लर्क भी गायब 2
देश की ताजा खबरें पढ़ने के लिए हमारे WhatsApp Group को Join करें
HTML tutorial
Girl in a jacket
यह खबर भी पढ़ें:  बठिंडा: डेढ़ माह में चौथी बार चढ़ाया HIV Positive खून, अबतक 28 बार खूनदान कर चुका है एचआईवी पॉजिटिव ब्लड डोनर
Share This Article
Follow:
I, Roshan Bilung Digital Marketer, Freelancer & Web Developer. My Passion is sharing the latest information and article with the public.
Leave a comment